Astrology, Horoscope Articles

दीपावली पूजा कैसे करें

दीपावली का दिन लक्ष्मी जी की पूजन से संबन्धित है। इस दिन हर घर, कार्यालय, दफतर मंे लक्ष्मी की के पूजन के रुप में उनका स्वागत किया जाता है। इस दिन जहाॅं गृहस्थ एवं वाणिज्य वर्ग के लोग धन की देवी लक्ष्मी से सुख समृद्धि एवं धन धान्य की कामना करते हैं, वहीं दूसरी ओर साधु संत तथा तांत्रिक कुछ विषेष सिद्धियों को प्राप्ति के लिए पूजा करते हैं। 23…

Oct, 23 2014 10:11 am
Read More

दीपावली 2014 पूजा मुहूर्त

दीपावली की सभी पाठकों को हार्दिक बधाईयाॅं। आइए जानते हैं दीपावली पूजन का समय एवं लाभदायक मुहूर्त। आज अर्थात 23 अक्टूबर को भारत का अत्यंत महत्वपूर्ण त्योंहार दीपावली मनाया जाएगा। आज के दिन के पूजन मुहूर्त निम्न प्रकार हैं:-  लक्ष्मी पूजा मुहूर्त सांय 6ः56 से 8ः14 तक प्रदोषकाल मुहूर्त सांय 5ः39 से 8ः14 तक वृषभ काल मुहूर्त सांय 6ः56 से 8ः52 तक महानिषीथ काल मुहूर्त पूजा मुहूर्त सांय 11ः39 से…

Read More

Kali Chaudas 2014 Date and Muhurat

This year Kali Chaudas will fall on 22 October 2014. Kali Chaudas is also known as Narak Chaturdashi and it is meant to expel the darkness and kill the evil spirit residing within a person.  Narak Chaturdashi falls on one day prior to Diwali and it holds immense meaning for all the Hindus across the globe. Diwali is a 5-day celebration and on the second day of Diwali people celebrate…

Read More

23 अक्टूबर, 2014 दिपावली पूजन मुहूर्त

देवी महालक्ष्मी पूजा एवं दीपावली का महापर्व कार्तिक कृष्ण पक्ष की अमावस्या में प्रदोष काल स्थिर लग्न में मनाया जाता है। धन की देवी लक्ष्मी की कृपा प्राप्त करने के लिए लक्ष्मी पूजन करना विषेष रुप से लाभदायक माना गया है। इस वर्ष 2014 में दीपावली 23 अक्टूबर, गुरुवार के दिन की रहेगी। इस दिन विष्कुंभ योग एवं चन्द्रमा कन्या राषि में संचार करेगा। दीपावली में अमावस्या तिथि, प्रदोष काल,…

Oct, 22 2014 06:18 am
Read More

दीपावली का पौराणिक महत्व और लक्ष्मी जी का निवास अपने यहां बनाये रखने के उपाय

हिन्दूओं का प्रमुख त्योंहार दीपावली है। इस पर्व का धार्मिक महत्व होने के साथ ही पौराणिक महत्व भी है। एक मान्यता के अनुसार बारह राषियों को दो भागों में बांटा गया था। छः राषियाॅं एक बड़े नाडीवृत के एक ओर स्थित हैं तथा अन्य छः दूसरी ओर। इस मंथन को करने के बाद चैदह रत्न निकले तथा लक्ष्मी जी अमावस्या तिथि को प्रकट हुई। लक्ष्मी जी का जन्म समुद्र मंथन…

Read More

Devi Kalratri is worshiped on Seventh Day of Navratri

Devi Kalratri is worshiped on Seventh Day of Navratri Ekveni Japakarnapura Nagna Kharastitha | Lamboshthi Karnikakarni Tailabhyakta Sharirani || Vaampadolla Salloh Lata Kanthak Bhushna | Vardhan Murdha Dhvaja Krishna Kalratri Bhayankari || The most horrific appearance of Durga is in form of Kalaratri. Devi Kalratri is the seventh manifestation of Durga and Worshiped among Navdurga. She is accepted to be the fiercest Devi among Navdurga. She has dark complexion and…

Oct, 02 2014 07:51 am
Read More

नवरात्रि का छठा दिन पूजा विधि

आज नवरात्रि का छठा दिन है तथा दुर्गा पूजा का दूसरा दिन भी मनाया जाता है। माँ दुर्गा ने इस दिन कात्यायनी के रूप में अवतरित हुई थी। नवरात्रि के छठे दिन को माँ कात्यायनी देवी की आराधना तथा पूजा करके मनाया जाता है। देवी कात्यायनी का रूप-विवरण माँ कात्यायनी को तीन नेत्र और चार हाथों के साथ चित्रित किया गया है। उनके ऊपर बाएँ हाथ में तलवार है और…

Sep, 30 2014 08:36 am
Read More

Devi Katyayani is Worshiped on Sixth Day of Navratri

Devi Katyayini or Katyayani is worshiped on the sixth day of Navratri festival Chandra Hasojvalakara Shardul Var Vahna | Katyayini Shubham Dadhya Devi Dan Vaghatini || Divine Goddess Katyayini is the sixth incarnation of Durga and one of the noticeable divinities among Navdurga. She is stupendously worshiped on the sixth day of Navratri pooja. Her appearance is hugely glorious and divine. She is spoken to with four-arms. Her upper left…

Read More

नवरात्रि पंचमी दुर्गा पूजा विधि

आज नवरात्रि का पांचवां दिन है, जो देवी स्कंदमाता को समर्पित है। माँ स्कंदमाता की चार भुजाएँ हैं। दाएॅं हाथ में उनके पुत्र कार्तिके पहली भुजा में विराजमान हैं। बाएँ हाथ की पहली भुजा वरदान देने की अवस्था में है। दोनों हाथों की दूसरी भुजा में माँ स्कंदमाता कमल का फूल धारण किए हुए हैं। इसके अतिरिक्त, इस दिन की शुभता उपंग ललिता की पूजा भी बढ़ाती है। इस कारण…

Read More

Devi Skanda Mata is Worshiped on Fifth Day of Navratri

Devi Skanda Mata is worshiped on the fifth day of Navratri festival Sinhasan Gata Nitayam Padmashrit Kardvaya | Shubhdastu Sada Devi Skanda Mata Yashashvini ||  Skanda mata is the fifth manifestation of Navdurga. On the fifth day of Navratri Pooja, Skanda mata is worshipped. Admirers offer incredible veneration to Ma Skanda on Panchami of Durga Pooja. Skanda is the name given to Kumar Kartikey. Goddess Parvati is mother of Kartikey…

Read More

Devi Kushmanda is Worshiped on Fourth Day of Navratri

Devi Kushmanda is worshiped on the fourth day of Navratri festival Sura Sampurna Kalasham Rudhira Plutmev Cha | Dadhana Hastpad Mabhyam Kushmanda Shubh Dastu Me || Maa Kushmanda is the fourth incarnation of Goddess Durga. On the fourth day of Navratri Pooja, worship of Devi Kushmanda is performed providing for her entire reverence. She sustains the whole universe with her divine and delicate smile that respected her with name ‘Kushmanda’….

Read More

नवरात्रि चतुर्थी पूजा-विधि

आज नवरात्रि का चैथा दिन है। आज का दिन देवी कूष्माण्डा को समर्पित है जो ब्रह्माण्ड की रचनाकार है। आज का दिन देवी कूष्माण्डा की उपासना कर आप अपनी परेशानियों को अलविदा करने का और एक नए और सुनहरे भविष्य की रचना करने का सुख प्राप्त कर सकते हैं। माँ कूष्माण्डा इस सृष्टि की रचयिता हैं और वे ही हैं जो सम्पूर्ण जगत को ऊर्जा प्रदान करती हैं। अपनी सौम्य…

Sep, 28 2014 05:30 pm
Read More