सूर्य का कन्या राषि में गोचर

ग्रह नरेश सूर्य 17 सितम्बर को कन्या राशि में प्रवेश कर गए तथा 17 अक्टूबर तक यहीं रहेंगे। कन्या में सूर्य के जाने से लोगों में अपने कार्य के प्रति अच्छी ऊर्जा और तन्मयता आती है। यह पृथ्वी तत्व, द्विस्वभाव, स्त्री राशि है और सूर्य के यहाँ गोचर करने से लोगों को स्वास्थ्य सम्बन्धी शिकायत हो सकती है।

मेष
यह गोचर आपके लिए बेहद लाभदायक होगा। सेहत को लेकर थोड़ा सजग रहना जरुरी है। जीवन में सभी कुछ हमेषा अच्छा रहे ऐसा जरुरी नहीं है। प्रेम के क्षेत्र में आपको थोड़ी परेषानी हो सकती है। संतान को लेकर भी तनाव रह सकता है। आपकी इच्छा षक्ति प्रबल रहेगी। परेषानी एक सीमा के बाद आपको परेषान नहीं कर सकेंगी।

वृषभ
अपने जीवन को संयमित बनाए। निजी जीवन में अच्छा समय है तथा घरेलु मामलों को आप खुद ही सुलझा लेंगे। प्रेम सम्बन्धों में कुछ परेषानी हो सकती है। सूर्य लाभ स्थान को देख रहा है। इस कारण आपको कार्यक्षेत्र में किसी बड़े अधिकारी अथवा व्यक्ति से लाभ प्राप्त हो सकता है। कानूनी मसले भी आपके पक्ष में रह सकते हैं। धन का खर्च मनोरंजन पर हो सकता है।

मिथुन
बुध दोनों ही राषियाॅं मिथुन एवं कन्या का स्वामी है। सूर्य इस घर में आकर मन को थोड़ा विचलित कर सकता है। आपको कार्यक्षेत्र में नई उर्जा के साथ काम करने की प्रेरणा मिलेगी। परन्तु अपने कार्य एवं अहंकार को दूर रखिएगा अन्यथा परेषानी हो सकती है। घर में बड़ों की बात को ध्यान से सुनें। मित्रों से लाभ प्राप्त होगा। नए सम्बन्ध भी बन सकते हैं।

कर्क
अपने से बड़ों एवं छोटों के साथ प्रेम से व्यवहार करें। ऐसे ही आपको अपने आस-पास के व्यक्तियों के साथ व्यवहार करना चाहिए। सभी से मिलनसारिता बनाए रखें। किसी को छोटा समझकर उसका तिरसकार ना करें। आपको लोगों के साथ अपनी वाणी तथा षब्दों पर ध्यान देने की जरुरत है।

सिंह
इस अवधि में यदि सोना खरीद सकते हैं तो सबसे बेहतर है। यदि आप असमर्थ हैं तो अपने समर्थता के अनुसार किसी ऐसे सामान में निवेष करें जो आगे चलकर आपके काम आ सके। आपको इस अवधि में सेहत से जुड़ी परेषानीयाॅं हो सकती हैं। षत्रुओं को आपसे असुविधा हो सकती है। घर के सदस्यों के व्यवहार में रुखापन आ सकता है। इसे दूर करने का प्रयास करें।

कन्या
यदि आपको धन खर्च करना है तो किसी अच्छे कार्य पर करें। ऐसी वस्तु जिसे आप लम्बे समय से नहीं लेकर आ रहे हैं उसे लेकर आएॅ जिससे घर वालों को प्रसन्नता हो। अपने लिए सभी जीते हैं परन्तु दूसरों के लिए जीने का आनंद अलग है। गुस्से पर थोड़़ा नियंत्रण रखें। सेहत का ख्याल रखें। मित्रों से आपको सहयोग प्राप्त हो सकता है।

तुला
आपको इस समय कहीं बाहर जाकर घूमना चाहिए। गोचर अच्छा है। इसका आनंद लेवें तथा घर के लोगों को भी मजा लेने दें। यदि आप विवाहित नहीं है तो मित्रों के साथ समय गुजार सकते हैं। यह समय अच्छा जीवन जीने का है। कामकाज ठीक रहेगा। मन की स्थिरता को बरकरार रखें तथा बेकार परेषान ना हों।

वृश्चिक
आपके हर प्रकार के लाभ प्राप्त होंगे। चिंता की कोई वजह नहीं है। कुल मिलाकर यह गोचर अच्छा रहेगा। यदि आप सरकारी नौकरी में हैं तो उच्चाधिकारी आपकी मदद करेंगे। इस समय आपको अधिकारीयों का साथ मिलेगा तथा उन्नति के प्रबल आसार हैं। यदि कोई पुराना कार्य रुका हुआ है तो वह इस समय पुरा हो सकता है। स्वभाव में थोड़़ी विनम्रता लेकर आएॅं।

धनु
दषम भाव में सूर्य का गोचर हमेषा अच्छा होता है। इस समय आप अपने पूराने अधुरे कार्य को पूरा कर सकते हैं। धार्मिक कार्य में भी आपको मुनाफा होगा। दूर के स्थानों पर घूमना भी अच्छा रहेगा। इससे मन में ताजगी का संचार होगा। यह गोचर आपके लिए हितकर होगा। यदि कोई समस्या भी हुई तो आप आराम से संभाल लेंगे।

मकर
गोचर के प्रथम पक्ष में कुछ परेषानीयों के बाद सब ठीक रहेगा। कोई भी बड़ा निर्णय इस समय ना लेवें। भाग्य अचानक आपका साथ छोड़ सकता है तथा मानहानि का सबब भी बन सकता है। ऐसा कोई कार्य ना करें जिससे आपको परेषानी हो। घरेलू जीवन अच्छा रहेगा। सूर्य परेषानी नहीं देता परन्तु ज्यादा पास आने पर भस्म कर सकता है। अतः सावधान रहें।

कुम्भ
निजी जीवन में खुद हो संभाल कर चलें। आपको धन का सुख प्राप्त हो सकता है। कामकाज में अनजान लोगों की सहायता मिलेगी। आप आगे बढ़ते रहेंगे। आपको अपने मित्रों से भी सहायता प्राप्त होगी। आपके कार्य सिर्फ बातचीत से भी पूरे हो सकते हैं। खान पान का विषेष ख्याल रखें। आपको यह गोचर नुकसानदेह नहीं होगा। सूर्य आठवें भाव में कुम्भ राषि वालों के लिए मकर राषि जितना क्रूर नहीं होता।

मीन
इस समय आपके निजी जीवन में परेषानी आ सकती है। किसी बात को लेकर कहासुनी हो सकती है तथा मानसिक तनाव का षिकार हो सकते हैं। आप अथवा आपके साथी कुछ समय के लिए बाहर जा सकते हैं। दूर रहना अच्छा है जब तक परिस्थितियाॅं अनुकूल ना हो अन्यथा संबंधों में दरार पड़ सकती है। यदि आपको एक दूसरे की आवष्यकता नहीं है तो ऐसे सम्बन्ध को ज्यादा समय आगे ना बढाएॅं।

Sep, 24 2015 07:24 am