बुध का मकर राषि में गोचर

मेष
तृतीय एवं छठे भाव के दसवें भाव में जाने से आपको लाभ होगा। आपकी कार्य क्षमता बढ़ेगी तथा आपकी बातों में बेहतरी आएगी। प्रेम संबंधों के लिए समय अनुकूल है। आपके घर में लोगों से सम्बन्ध मधुर होंगे। सेहत में गिरावट आ सकती है। आपके प्रयासों में तेजी आएगी तथा आप उसका भरपूर लाभ भी ले सकते है। षिक्षारत लोगों के लिए भी समय अनुकूल है।

वृषभ

धन का लाभ होगा। आपको अपने प्रयास जारी रखने चाहिए। लेखन में रुचि बन सकती है। विविध विषयों में आपकी रुचि बन सकती है। यदि आप साधक हैं तो अपने गुरु से मिलने जा सकते हैं। कोई नया समझौता हो सकता है। यह गोचर लाभदायक होगा तथा आपको आंतरिक आनंद की अनुभूति भी देगा।

मिथुन

लग्नेष के आठवें भाव में जाने से कुछ परेषानी होगी। किन्तु बुध अधिक दिन एक राषि में नहीं रहता। आपको मानसिक तौर पर उर्जावान रहना होगा। सेहत को लेकर कुछ परेषानी हो सकती है तथा मानहानि का भी खतरा हो सकता है। अतः आपको अपनी कर्म तथा वाणी पर संयम रखना होगा। दूसरों की बातों को ध्यान से सुनें तथा उनका समाधान करने की कोषिष करें। विष्णुसहस्त्रनाम का पाठ करना भी आपके लिए अच्छा रहेगा।

कर्क

घर के सदस्यों पर धन का व्यय होगा। व्यर्थ धन का व्यय करने से अच्छा है घर वालों की जरुरतों को पूरा करना। मन में सुखद तरंगें चलती रहेंगी तथा साथी ही अनिर्णय की स्थिति भी उत्पन्न होगी। अतः आपको निर्णय लेने में अत्याधिक सोच विचार करने से बचना होगा। प्रेम संबंधों में अच्छी प्रगति के योग हैं। निजी जीवन में भी अच्छा समय रहेगा।

सिंह

सेहत को लेकर कुछ सामान्य परेषानी रह सकती है। नौकरी बदलने के लिए उचित समय है। इस समय दूर की यात्राओं से बचना होगा क्योंकि आपको हानि भी हो सकती है। स्वयं के प्रयासों से आपको सफलता मिलेगी। अतः आप अपने प्रयासों में कोई कमी नहीं आने देवें। आपको भाग्य का साथ भी मिलेगा। परन्तु आप अपने प्रयासों में कमी ना होने देवें।

कन्या

दूसरो को सलाह देने के लिए अच्छा गोचर है। अर्थात आप अच्छे सलाहकार बन सकते हैं। आपको अपने अहंकार पर नियंत्रण रखना होगा। मित्रों के साथ बहुत आनंद लेंगे तथा उनसे आपको आर्थिक लाभ भी मिलेगा। आपको भी उनकी मौखिक ही नहीं बल्कि हर प्रकार से मदद करनी होगी।

तुला

घर के लोगों में सामंजस्य बना रहेगा। आपको घर में किसी सुधार कार्य पर खर्चा करना पड़ सकता है। यदि आप किराए के मकान में रह रहें हैं तो उसका बदलने के लिए समय लाभदायक है। भाग्येष की दषम पर दृष्टि कार्य को सरल बनाएगी तथा प्रगति की ओर अग्रसर करेगी। निजी जीवन भी अच्छा रहेगा। प्रेम सम्बन्ध अच्छे रहेंगे। खर्चों पर ध्यान देवें तथा नियंत्रण रखें।

वृश्चिक

आपको अपने भाइयों से सुखद समाचार मिल सकता है। आपकी संवाद षैली में सुधार आएगा तथा आपके अपने आस पास के लोगों से सम्बन्धों में मधुरता आएगी। आपको अपने कार्य के कारण यात्रा भी करनी पड़ सकती है। आपको इस समय किसी समझौते को भी पूरा करने का मौका मिल सकता है। आपको इस समय घर के बड़ों की आज्ञा का पालन करना चाहिए तथा दान पूण्य करना चाहिए। इससे नई उर्जा का संचार आपके भीतर होगा।

धनु

धन के कारकों में एक बुध भी होता है क्योंकि यह दसवें भाव का कारक माना जाता है। कर्म से धन आता है तथा जब यह दूसरे भाव में हो तो आपको धन देना भी चाहिए। अतः यह आपके लिए षुभ समय है। आपको धन लाभ होगा परन्तु कुछ मानसिक कलेष भी हो सकता है। प्रेम संबंधों को समय देने लाभदायक होगा। अधिकारीयों से आपकी अच्छी बनेगी। ये गोचर आपके लिए लाभदायक है।

मकर

आपके लिए यह गोचर काफी लाभकारी रहेगा। क्योंकि यह मंगल के नक्षत्र में भी काफी रहने वाला है। अतः आपके जो भी काम अधूरे पड़े हैं उन्हें पूरा करने का प्रयास आप कर सकते हैं। आपकी सफलता के बहुत प्रबल योग हैं। व्यवसाइयों को लाभ होगा खासकर जमीन से जुड़े करोबार वालों को। निजी जीवन में भी समय पक्ष में रहेगा।

कुम्भ

धन को वापस करने के लिए समय लाभदायक है। किसी का उधार रखना ठीक नहीं है। घर से बाहर जाना हो सकता है किसी जरुरी कार्य को पूरा करने के लिए। आपको इस समय लाभ ही होगा। कामकाज की स्थिति अच्छी रहेगी तथा सभी से आपके सम्बन्ध भी प्रगाढ़ होंगे। प्रेम सम्बन्धों में थोड़ा मनमुटाव आ सकता है। आपको अपेक्षानुसार लाभ नहीं होगा परन्तु फिर भी यह गोचर आपके हित में रहेगा।

मीन

आपके प्रेम सम्बन्ध में मजबूती आएगी। आपके आय के स्त्रोत भी बढ़ सकते है। नौकरी में आप बेहतर प्रदर्षन करेंगे। आप अपने मित्रों की मदद भी आगे बढ़कर करेंगे। आपको धन का लाभ भी होगा एवं नई वस्तुओं पर खर्च भी कर सकते हैं। अतः आपको अपने प्रयासों में पूरी मेहनत व लग्न से ध्यान देना चाहिए।

Category: Predictions

Dec, 28 2015 08:45 am